Operating System क्या है? उदाहरण, प्रकार, विशेषताएं, कार्य

क्या आपने कभी सोचा है कि आपका Computer किस तरीके से काम करता है? माउस पर क्लिक करने से या कीबोर्ड पर टाइप करने से कंप्यूटर में चीजें कैसे घटती हैं? इन सबके पीछे ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) होता है।

लेकिन क्या आपको पता है कि Operating System Kya Hai? और यह आपके Computer को चलाने में कैसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है? अगर नहीं, तो यह आर्टिकल आपके लिए है।

इस ब्लॉग पोस्ट में, मैं आपको आसान भाषा में बताऊंगा कि OS यानी Operating System क्या होता है, यह कैसे काम करता हैं, इसके उदाहरण, प्रकार, कार्य, विशेषताएं।

चाहे आप कंप्यूटर के बारे में जानकारी रखने वाला हों या सिर्फ ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में जानना चाहते हों यह ब्लॉग पोस्ट आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण होने वाला है। इसीलिए यह पोस्ट अंत तक जरूर पढ़ें।

तो चलिए Operating System (ओएस) के बारे में हिंदी में गहराई से जानते हैं।

Content In The Article Show

Operating System क्या है? (What is Operating System in Hindi)

ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System) एक महत्वपूर्ण Software Program है जो Computer के सभी कार्यों को Control और Manage करता है। यह Hardware (जैसे कि Processor, CPU, RAM, और Storage) और Software (जैसे कि Applications) के बीच एक पुल की तरह काम करता है।

यह Users को कंप्यूटर के साथ Interact करने और विभिन्न कार्यों को करने में मदद करता है। ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) के बिना Computer कुछ नहीं कर सकता।

सभी कंप्यूटर को सही से काम करने और दूसरे Programs या Applications को रन करने के लिए एक OS की आवश्यकता होती है। Chrome, MS Word, Games, Photoshop आदि.

जैसे एप्लिकेशन को एक माध्यम या प्लेटफ़ॉर्म की आवश्यकता होती है जहां वे रन कर सकें और अपने Task को पूरा कर सकें। और OS उन्हें ये प्लेटफार्म प्रदान करता है।

Operating System क्या है
Operating System क्या है

सरल शब्दों में कहें तो Operating System आपके Computer का दिमाग है। यह कंप्यूटर के सभी हिस्सों को निर्देश देता है और उन्हें एक साथ काम करने में मदद करता है।

ऑपरेटिंग सिस्टम के बिना, आपका Computer कुछ भी काम का नहीं है। यह एक बेकार मशीन होगी, जिसमें कोई कुछ भी कार्य नहीं कर सकता।

कल्पना कीजिए, आपके पास एक खिलौना कार है, लेकिन उसे चलाने के लिए कोई बैटरी या इंजन नहीं है। ठीक वैसे ही, आपका कंप्यूटर भी बिना OS के बेकार है।

ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) का इतिहास –

Operating System का इतिहास काफी पुराना है, जो 1950 के दशक में शुरू हुआ था। 1950 के दशक में जब कंप्यूटर का आविष्कार हुआ था तब ऑपरेटिंग सिस्टम बहुत ही सरल थे।

वे सिर्फ मेमोरी और प्रोसेसर को मैनेज करते थे। 1960 के दशक में Operating System और Advance हुआ और Multitasking और Multi-User क्षमताओं को सपोर्ट करने लगा।

1970 के दशक में UNIX ऑपरेटिंग सिस्टम विकसित किया गया जो आज भी कई कंप्यूटरों में उपयोग किया जाता है। 1980 के दशक में माइक्रोसॉफ्ट विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम Popular

हुआ। 1990 के दशक में Linux Operating System विकसित किया गया जो एक Open Source ऑपरेटिंग सिस्टम है। 2000 के दशक में मोबाइल Operating System जैसे कि Android और iOS विकसित किया गया।

आज, ऑपरेटिंग सिस्टम सभी प्रकार के कंप्यूटरों में उपयोग किए जाते हैं, जैसे डेस्कटॉप (Desktop), लैपटॉप (Laptop), टैबलेट (Tablet), स्मार्टफोन (Smartphone) और सर्वर (Server) आदि।

Operating System के उदाहरण – 

मैं यकीन के साथ कह सकता हूं कि कुछ ऑपरेटिंग सिस्टम के नाम आपको पहले से ही मालूम है, जैसे विंडोज़ (Windows), मैकओएस (macOS), आईओएस (iOS), एंड्रॉयड (Android).

क्योंकि ज्यादातर लोग इन्हीं Operating System से चलने वाले Devices को इस्तेमाल करते हैं। लेकिन मैं आपको बता दूं कि इनके अलावा और भी कई ऑपरेटिंग सिस्टम होते हैं।

Operating System कई उदाहरण हैं, जिनका उपयोग विभिन्न प्रकार के डिवाइस पर किया जाता है। यहां कुछ पॉपुलर ऑपरेटिंग सिस्टम के उदाहरण दिए गए हैं:

operating system के उदहारण
operating system के उदहारण

डेस्कटॉप और लैपटॉप (Desktop & Laptop) –

  •  Microsoft Windows: यह दुनिया का सबसे Popular Operating System है, जो विभिन्न प्रकार के Versions में उपलब्ध है, जैसे कि Windows 10, Windows 11, Windows Server आदि।
  • Apple macOS: यह Apple Inc. द्वारा Develope किया हुआ ऑपरेटिंग सिस्टम है, जो MacBook, iMac और अन्य Apple Devices में उपयोग किया जाता है।
  • Linux: Linux एक Open Source ऑपरेटिंग सिस्टम है, जो विभिन्न Distributions में उपलब्ध है, जैसे कि Ubuntu, Fedora, Debian आदि।

मोबाइल डिवाइस (Mobile Device) –

  • Android: यह दुनिया का सबसे पॉपुलर मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसे Google ने Develop किया है।
  • iOS: यह Apple Inc. द्वारा डेवलप क्या हुआ Operating System है, जो iPhone, iPad और अन्य Apple मोबाइल Devices में उपयोग किया जाता है।
  • Windows Phone: यह Microsoft द्वारा विकसित ऑपरेटिंग सिस्टम है, जो Lumia स्मार्टफोन में उपयोग किया जाता है।

सर्वर (Server)

  • Microsoft Windows Server: यह Microsoft द्वारा विकसित Operating System है, जो Servers में उपयोग किया जाता है।
  • Linux Server: यह Linux ऑपरेटिंग सिस्टम का एक संस्करण है, जो Servers में उपयोग किया जाता है।
  • UNIX: यह एक Multitasking, Multiuser Operating System है, जिसका उपयोग Servers में किया जाता है।

एम्बेडेड सिस्टम (Embeded System)

  • Android Things: यह Android ऑपरेटिंग सिस्टम का एक Version है जिसका उपयोग Smart Watches, Smart TV और अन्य Embeded Devices में किया जाता है।
  • Linux Kernel: यह Linux Operating System का मुख्य भाग है, जो विभिन्न प्रकार के एम्बेडेड डिवाइसेज में उपयोग किया जाता है।\
  • Real-time Operating Systems (RTOS): ये ऑपरेटिंग सिस्टम विशेष रूप से उन Applications के लिए डिज़ाइन किए गए हैं जिनके लिए Time-Limited Response की आवश्यकता होती है, जैसे Industrial Control Systems और Medical Devices।

ये कुछ Popular Operating System के उदाहरण हैं। विभिन्न प्रकार के Devices के लिए कई और ऑपरेटिंग सिस्टम उपलब्ध हैं।

Operating System के प्रकार –

Operating System कई प्रकार के होते हैं। ऑपरेटिंग सिस्टम को विभिन्न आधारों पर विभाजित किया जाता है, जैसे कार्यक्षमता के आधार पर, User Interface के आधार पर, उपयोग के आधार पर। तो आइये अलग-अलग आधार पर OS के प्रकारों पर नजर डालते हैं।

कार्यक्षमता के आधार पर –

कार्यक्षमता के आधार पर Operating System के कुल चार प्रकार हैं।

Batch Processing Operating System –

यह Operating System कई कार्यों को Batches में विभाजित करता है और उन्हें एक-एक करके Excecute करता है। यह बड़ी मात्रा में डेटा को Process करने के लिए उपयोगी है, जैसे कि बैंकिंग लेनदेन या वेतन गणना।

Time Sharing Operating System –

यह ऑपरेटिंग सिस्टम कई Users को एक ही समय में कंप्यूटर का उपयोग करने की अनुमति देता है। यह हर एक यूजर को एक Fixed Time Interval प्रदान करता है, जिसके दौरान वे यूजर कंप्यूटर का उपयोग कर सकते हैं।

Multi-Tasking Operating System –

यह Operating System एक ही समय में कई कार्यों को चलाने की अनुमति देता है। यह उपयोगकर्ताओं को एक ही समय में कई एप्लिकेशन खोलने और चलाने यानी Multi-Tasking करने की अनुमति देता है।

Real Time Operating System –

यह ऑपरेटिंग सिस्टम Time-Sensitive कार्यों को नियंत्रित करने के लिए उपयोग किया जाता है, जैसे कि Industrial Control Systems या Medical Equipments।

User Interface के आधार पर –

User Interface के आधार पर Operating System के कुल दो प्रकार हैं।

Command Line Interface –

यह Operating System Users को Command टाइप करके कंप्यूटर के साथ Interact करने की अनुमति देता है। यह Experienced Users के लिए ज्यादा Efficient हो सकता है, लेकिन शुरुआती लोगों के लिए इसे सीखना मुश्किल हो सकता है।

Graphical User Interface (GUI) –

ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस (GUI) वह है जिससे Users कंप्यूटर के साथ Menu, Button, और Images का इस्तेमाल करके बातचीत करते हैं। GUI का उपयोग करके Users कंप्यूटर को आसानी से समझ कर काम कर सकते हैं।

उपयोग के आधार पर –

उपयोग के आधार पर Operating System के कुल तीन प्रकार हैं।

Desktop Operating System –

यह Operating System डेस्कटॉप कंप्यूटर के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह आमतौर पर एक Graphical User Interface का उपयोग करता है और कई Application चलाने में सक्षम होता है।

Mobile Operating System –

यह ऑपरेटिंग सिस्टम स्मार्टफोन और टैबलेट जैसे मोबाइल Devices के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह आमतौर पर Touchscreen Interface का उपयोग करता है और मोबाइल एप्लिकेशन चलाने में सक्षम है।

Server Operating System –

यह Operating System Servers के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह आम तौर पर एक कमांड लाइन इंटरफ़ेस का उपयोग करता है और कई Users और Applications का Support करने में सक्षम है।

Operating System की विशेषताएं –

ऑपरेटिंग सिस्टम, कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण सॉफ्टवेयर है जो Hardware और Software के बीच एक इंटरफेस प्रदान करता है। यह विभिन्न कार्यों को करने के लिए उपयोगी टूल और सेवाएं प्रदान करता है।

Operating System की कुछ मुख्य विशेषताएं इस प्रकार हैं:

1. ऑपरेटिंग सिस्टम प्राथमिक मेमोरी (RAM) को ट्रैक करता है। अगर आप RAM के बारे में नहीं जानते तो यहां जानिए RAM क्या होता है। Operating System यह देखता है कि मेमोरी कहां और कितनी मात्रा में उपयोग की जा रही है। और यह मेमोरी की मांग को पूरा करता है जब जरूरत होती है।

2. Operating System कंप्यूटर से जुड़े सभी Devices को नियंत्रित करता है, जैसे कि Keyboard, Mouse, Display, Printer और Storage Device.

3. ऑपरेटिंग सिस्टम Processor का ध्यान रखता है, यह निर्धारित करता है कि कौन से कार्य कब और कितने समय तक चलेंगे। यह Multitasking को सक्षम बनाता है, जिससे आप एक ही समय में कई कार्य कर सकते हैं।

4. Operating System कंप्यूटर Hardware और Software दोनों को नियंत्रित करता है, यह सुनिश्चित करता है कि वे एक साथ काम करें।

5. ऑपरेटिंग सिस्टम आपको Errors और खतरों के बारे में सावधान करता है, ताकि आप उन्हें ठीक कर सकें। यह आपको डेटा हानि और अन्य समस्याओं से बचाने में मदद करता है।

6. Operating System Password और अन्य तकनीकों के जरिए सुरक्षा प्रदान करता है। साथ ही यह Virus और अन्य खतरों से बचाने में मदद करता है।

7. ऑपरेटिंग सिस्टम Computer Programs और User के बीच तालमेल बनाता है, जो User का कंप्यूटर उपयोग करना आसान बनाता हैं।

ऑपरेटिंग सिस्टम कैसे काम करता है –

Operating System वह सॉफ़्टवेयर होता है जो आपके Computer को चलाने और उसके सभी काम करने में मदद करता है। इसका काम है कंप्यूटर के हार्डवेयर को निर्देशित करना होता है।

ताकि आप अपने काम कर सकें। जैसे कि आप Files सेव कर सकते हैं, इंटरनेट पर सर्फ़ कर सकते हैं, गेम्स खेल सकते हैं, और भी बहुत कुछ।

ऑपरेटिंग सिस्टम कैसे काम करता है
ऑपरेटिंग सिस्टम कैसे काम करता है

उदाहरण के लिए – सोचिए आप अपने Computer पर एक फ़ाइल सेव कर रहे हैं। जब आप Save बटन दबाते हैं, तो ऑपरेटिंग सिस्टम यह निर्देशित करता है कि वह फ़ाइल को कैसे स्टोर करे और किस नाम से सेव करना है।

और जब आप उस फ़ाइल को खोलना चाहते हैं, तो Operating System उसे खोलने के लिए आपको मदद करता है।

Operating System के कार्य – 

ऑपरेटिंग सिस्टम के कई महत्वपूर्ण कार्य हैं, जिनमें से कुछ मुख्य कार्य हैं:-

Hardware Management –

Operating System कंप्यूटर के सभी Hardware Components, जैसे कि CPU, RAM, memory, Storage Devices, Input/Output Devices आदि को Controll और Manage करता है। यह सुनिश्चित करता है कि सभी Hardware Components एक दूसरे के साथ सामंजस्य बनाकर काम करें।

Memory Management –

ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर की मेमोरी को Manage करता है। यह सुनिश्चित करता है कि सभी Applications और Programs के पास कार्य करने के लिए पर्याप्त मेमोरी उपलब्ध हो।

Process Management –

Operating System कंप्यूटर में चल रही सभी प्रक्रियाओं (processes) को नियंत्रित और प्रबंधित करता है। यह सुनिश्चित करता है कि सभी प्रक्रियाएं Smoothly और बिना किसी रुकावट के चलें।

File Management –

ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर में मौजूद सभी फाइलों और डेटा को Organize और Manage करता है। यह Users को Files को Create करने, Delete करने, Edit करने और Copy करने की अनुमति देता है।

Security –

Operating System कंप्यूटर को Unauthorized Access, Data Theft और अन्य खतरों से बचाता है। यह Users को अपने डेटा और एप्लिकेशन को सुरक्षित रखने के लिए विभिन्न सुरक्षा सुविधाएं प्रदान करता है।

User Interface –

ऑपरेटिंग सिस्टम Users को कंप्यूटर के साथ इंटरैक्ट करने के लिए एक Graphical या टेक्स्ट पर आधारित यूजर इंटरफेस (UI) प्रदान करता है। यह Users को विभिन्न एप्लिकेशन और प्रोग्राम को आसानी से चलाने और उपयोग करने में मदद करता है।

Networking – 

Operating System कंप्यूटर को अन्य Computers और Internet से जुड़ने में मदद करता है। यह Users को अन्य कम्प्यूटर्स के साथ Files और Data को शेयर करने, ईमेल Send और Recieve करने और इंटरनेट का इस्तेमाल करने की अनुमति देता है।

Application Support –

ऑपरेटिंग सिस्टम विभिन्न प्रकार के एप्लिकेशन को चलाने के लिए आवश्यक वातावरण प्रदान करता है। यह Users को अपनी जरूर के अनुसार विभिन्न प्रकार के एप्लिकेशन इंस्टॉल करने और चलाने की अनुमति देता है।

Updates and Maintenance –

Operating System को नियमित रूप से Update और Maintenance करने की आवश्यकता होती है। ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट Security Patches, Bug Fixes और नए फीचर प्रदान करते हैं।

Utility –

Operating System कंप्यूटर को Users के लिए उपयोगी और Useful बनाता है। यह Users को विभिन्न कार्यों को आसानी से और सही तरीके से करने में मदद करता है।

प्रमुख Operating System के नाम –

यह है कुछ प्रमुख Operating System के नाम:-

Category

ऑपरेटिंग सिस्टम (OS)

Desktop Operating System

Microsoft Windows

Apple macOS

Linux

Mobile Operating System

Android

iOS

Windows Phone

Server Operating System

Microsoft Windows Server

Linux

UNIX

Others Operating System

Chrome OS

Tizen

Conclusion – Operating System क्या है

तो अब आप जान गए हैं कि Operating System क्या है (Operating System Kya Hai) और यह कैसे काम करता है। उम्मीद है कि आपको इस ब्लॉग पोस्ट से ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) के बारे में सारी जानकारी मिल गई होगी।

Operating System एक Important कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर है जो हमारे कंप्यूटर और उनके Devices को कार्य करने में मदद करता है। यह सिस्टम हमें अन्य सॉफ़्टवेयर का उपयोग करने की सुविधा प्रदान करता है। 

और हमें हार्डवेयर के साथ Operate करने की अनुमति देता है। इसलिए, एक अच्छा ऑपरेटिंग सिस्टम चुनना बहुत जरूरी है ताकि हमारे कंप्यूटर और डिवाइस का उपयोग आसान और सुविधाजनक हो।

इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। और इसी तरह के पोस्ट के अपडेट पाने के लिए hindimea.com वेबसाइट को फॉलो करें। अगर आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं। पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद।

FAQ’s – Operating System क्या है


ऑपरेटिंग सिस्टम की परिभाषा क्या है?

ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) एक सॉफ्टवेयर है जो कंप्यूटर के सभी Hardware और Software Components को Control और Coordinate करता है।

यह Users को कंप्यूटर के साथ इंटरैक्ट करने और विभिन्न एप्लिकेशन चलाने का एक आसान और सहज तरीका प्रदान करता है।

ऑपरेटिंग सिस्टम कौन कौन से है?

कई ऑपरेटिंग सिस्टम उपलब्ध हैं, जिनमें से कुछ हैं:
1. Desktop Operating System: Windows, MacOS, Linux
2. Mobile Operating System: Android, iOS
3. Server Operating System: Linux Server, Windows Server
4. Embeded Operating System: Real-Time Operating System (RTOS), Linux Kernel

सबसे पहला ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है?

सबसे पहला ऑपरेटिंग सिस्टम है GM-NAA I/O Operating System, जिसे 1956 में General Motors द्वारा विकसित किया गया था।

यह एक Batch Operating System था जो पंच कार्ड का उपयोग करके डेटा को इनपुट और आउटपुट करता था।

Rehan इस वेबसाइट hindimea.com के Founder हैं। इस वेबसाइट के जरिए लोगों तक Blogging, Online Earning, Tips & Tricks, Computer और Reviews को Share करते हैं।

Leave a Comment